ढर्रे से अलग! IMF ऑफिस की दीवार पर टंगी गीता गोपीनाथ की तस्वीर इसलिए है और भी खास

आईएमएफ में एक अहम भारतीय चेहरा रही गीता गोपीनाथ ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें साझा की हैं, जिसमें उनकी खुशी  भी देखते बन रही है. दरअसल, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के ऑफिस में एक ऐसी दीवार है, जहां संस्था में पूर्व के मुख्य अर्थशास्त्रियों की फ्रेम कराकर तस्वीर लगी हुई हैं. गीता गोपीनाथ का नाम भी इसी में जुड़ गया है.

ढर्रे से अलग! IMF ऑफिस की दीवार पर टंगी गीता गोपीनाथ की तस्वीर इसलिए है और भी खास

गीता गोपीनाथ ने ट्विटर पर शेयर की अपनी तस्वीरें.

इसमें कोई दोराय नहीं है कि पूर्व में इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड (IMF) की मुख्य अर्थशास्त्री रह चुकीं गीता गोपीनाथ इस पद पर नियुक्त होने के बाद ही दशकों पुरानी परंपरा तोड़ चुकी थीं, लेकिन अब एक नई वजह से उनकी यह उपलब्धि फिर से हाईलाइट  हो गई है. आईएमएफ में एक अहम भारतीय चेहरा रही गीता गोपीनाथ ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें साझा की हैं, जिसमें उनकी खुशी  भी देखते बन रही है. दरअसल, अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष के ऑफिस में एक ऐसी दीवार है, जहां संस्था में पूर्व के मुख्य अर्थशास्त्रियों की फ्रेम कराकर तस्वीर लगी हुई हैं. गीता गोपीनाथ का नाम भी इसी में जुड़ गया है.

आईएमएफ के पूर्व अर्थशास्त्रियों की लंबी लिस्ट में गीता गोपीनाथ का नाम शामिल हो गया है. उन्होंने एक ट्वीट में दो तस्वीरें साझा की हैं, जिसमें वो अपनी तस्वीर के करीब खड़ी नजर आ रही हैं. उन्होंने लिखा, "ट्रेंड तोड़ती मैं.... आईएमएफ के पूर्व मुख्य अर्थशास्त्रियों की तस्वीरों वाली दीवार पर मेरी तस्वीर भी."

गीता गोपीनाथ की तस्वीर कई मायनों में खास है और उनके लिए इतना बड़ा पल है. आपको यह नोटिस करने के लिए कि इस दीवार पर दिखाई दे रहे चेहरों में वो अकेली महिला हैं, बहुत ध्यान से देखने की जरूरत नहीं हैं. गीता गोपीनाथ अब तक अकेली ऐसी महिला हैं जो इस आईएएमएफ के इस पद पर रह चुकी हैं. साथ ही यह पद संभालने वाली वो दूसरी भारतीय भी हैं. 

दरअसल, आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन भी इस पद पर रह चुके हैं. वो 2003 से 2006 के बीच में आईएमएफ के चीफ इकोनॉमिस्ट एंड डायरेक्टर ऑफ रिसर्च थे.

गीता गोपीनाथ पहली महिला चीफ इकोनॉमिस्ट का पद छोड़ने के साथ भी एक नई उपलब्धि हासिल की थी. आईएमएफ को छोड़ने की खबरों के बीच पिछले साल दिसंबर में उन्हें संस्था में प्रमोशन दे दिया गया था और उन्हें नंबर दो के अधिकारी का पद दे दिया गया था. IMF ने गीता गोपीनाथ को डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर बनाने की घोषणा की थी. ऐसा पहली बार है कि इस अंतराष्ट्रीय संस्था में शीर्ष के दो पदों पर महिलाएं हैं. IMF की चीफ क्रिस्तलीना जॉर्जीवा के बाद गीता गोपीनाथ संस्था का दूसरा सबसे बड़ा चेहरा बन चुकी हैं.

बता दें कि गीता गोपीनाथ अक्टूबर, 2018 में IMF की चीफ इकॉनमिस्ट बनी थीं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : 'वैक्सीनेशन में असमानता दुःखद', NDTV से बोलीं IMF की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ