अमेरिका ने किया कृषि कानूनों का समर्थन तो कंगना ने कसा तंज बोलीं- गजनी भी तुम्हें बचाने नहीं आया...

अमेरिका (America) ने भारत द्वारा लाए गए कृषि कानूनों (Farm Laws) का भी समर्थन किया. इस कदम को लेकर बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ट्वीट किया है.

अमेरिका ने किया कृषि कानूनों का समर्थन तो कंगना ने कसा तंज बोलीं- गजनी भी तुम्हें बचाने नहीं आया...

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने अमेरिका द्वारा कृषि कानूनों का समर्थन करने पर किया ट्वीट

खास बातें

  • अमेरिका ने किया कृषि कानूनों का समर्थन
  • कंगना रनौत ने कृषि कानूनों पर किया ट्वीट
  • कंगना रनौत ने कहा कि तुम्हारा बाप गजनी भी तुम्हें बचाने नहीं आया.
नई दिल्ली:

शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को एक सफल लोकतंत्र की पहचान बताते हुए अमेरिका (America) ने बुधवार को कहा कि वह उन प्रयासों का स्वागत करता है जिससे भारत के बाजारों की क्षमता में सुधार होगा और निजी क्षेत्र निवेश के लिए आकर्षित होगा. इसके साथ ही अमेरिका ने भारत द्वारा लाए गए कृषि कानूनों (Farm Laws) का भी समर्थन किया. वहीं, अमेरिका के इस कदम को लेकर बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने ट्वीट किया है. उन्होंने अपने ट्वीट के जरिए विदेशी कलाकारों के किसान आंदोलन का समर्थन करने पर भी तंज कसा है. कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में लिखा कि तुम्हारा बाप गजनी भी तुम्हें बचाने नहीं आया.

कंगना रनौत (Kangana Ranaut) का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, साथ ही सोशल मीडिया यूजर इसपर खूब कमेंट भी कर रहे हैं. कंगना रनौत ने अपने ट्वीट में अमेरिका द्वारा कृषि कानूनों के समर्थन पर रिएक्शन देते हुए लिखा, "लिब्रू इसे सुनें, तुम्हारा बाप गजनी भी तुम्हें बचाने के लिए नहीं आया. भाग गया..." बता दें कि अमेरिकी चुनाव में जो बाइडेन (Joe Biden) की जीत के बाद भी कंगना ने उन्हें गजनी बताया था. इसके अलावा कंगना ने पॉप स्टार रिहाना के ट्वीट पर भी रिप्लाई करते हुए उन्हें 'फूल' बताया. साथ ही दिलजीत दोसांझ को भी कंगना रनौत ने 'भेड़ की खाल में छुपा हुआ भेड़िया' बताया था. 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं, अमेरिका (America) की बात करें तो भारत सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों (Farm Laws) पर वहां कि विदेश मंत्रालय ने बयान जारी किया. इसमें उन्होंने कहा, "अमेरिका उन कदमों का स्वागत करता है जिससे भारत के बाजारों की क्षमता में सुधार होगा और निजी क्षेत्र की कंपनियां निवेश के लिए आकर्षित होंगी." प्रवक्ता ने यह संकेत दिया कि बाइडन प्रशासन कृषि क्षेत्र में सुधार के भारत सरकार के कदम का समर्थन करता है जिससे निजी निवेश आकर्षित होगा और किसानों की बड़े बाजारों तक पहुंच बनेगी. भारत में चल रहे किसानों के प्रदर्शन पर एक सवाल के जवाब में विदेश मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका वार्ता के जरिए दोनों पक्षों के बीच मतभेदों के समाधान को बढ़ावा देता है.