दीये और मोमबत्ती के साथ लोगों ने फोड़े पटाखे तो बॉलीवुड एक्ट्रेस को आया गुस्सा, बोली- क्या समझ नहीं आता

दिव्या दत्ता (Divya Dutta) लोगों द्वारा पटाखे जलाने भड़कीं नजर आईं. इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट भी किया है जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.

दीये और मोमबत्ती के साथ लोगों ने फोड़े पटाखे तो बॉलीवुड एक्ट्रेस को आया गुस्सा, बोली- क्या समझ नहीं आता

दिव्या दत्ता (Divya Dutta) ने लोगों द्वारा पटाखे जलाने पर किया गुस्सा

खास बातें

  • पीएम मोदी की अपील के बाद लोगों ने जलाए पटाखे
  • लोगों द्वारा पटाखे जलाने पर भड़कीं दिव्या दत्ता
  • दिव्या दत्ता का ट्वीट हुआ वायरल
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अपील के बाद देशभर के लोगों ने अपने घर के सभी लाइट बंद कर दिए और दीए, कैंडल जलाए. लेकिन इसी बीच कई जगहों पर लोगों ने पटाखे जलाने भी शुरू कर दिये. लोगों द्वारा पटाखे जलाने की बात पर बॉलीवुड एक्ट्रेस दिव्या दत्ता (Divya Dutta) भी भड़कीं नजर आईं. इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट भी किया है जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. अपने ट्वीट में दिव्या दत्ता ने कहा कि क्या चीज समझ में नहीं आती है. दिव्या दत्ता का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब सुर्खियां बटोर रहा है, साथ ही लोग इसपर जमकर कमेंट भी कर रहे हैं. 


अपने ट्वीट में दिव्या दत्ता (Divya Dutta) ने लोगों द्वारा पटाखे जलाने पर आपत्ति जताते हुए लिखा, "दोस्तों दीये जलाने को कहा था, पटाखे फोड़ने को नहीं. क्या चीज समझ नहीं आती है?" बता दें कि एक्ट्रेस दिव्या दत्ता अपने विचारों को लेकर सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं. वह अकसर समसामयिक मुद्दों पर अपनी राय पेश करती हैं. बता दें कि दिव्या दत्ता के अलावा एक्ट्रेस सोनम कपूर ने भी इस मुद्दे को लेकर ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि लोग इसे दीवाली समझ रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि मैं बहुत परेशान हूं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com



बता दें कि पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने शुक्रवार को कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग को लेकर एक वीडियो मैसेज देशवासियों को दिया था.  पीएम मोदी ने अपने मैसेज में 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए मोमबत्ती और दीया जलाने का आह्वान किया था. उन्होंने कहा था कि 'कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान आप सभी ने अनुशासन और सेवाभाव, दोनों का जो परिचय दिया है, वो अभूतपूर्व है.'