रात को सोते समय उत्तर दिशा में पैर करके सोते हैं आप, तो जान लीजिए क्या होता है फिर

Which direction we should not sleep : वास्तु विज्ञान में उत्तर दिशा को सोने के लिहाज से काफी फायदेमंद माना गया है. आइए जानते हैं कि इस दिशा में पैर करके सोने से क्या होता है.

रात को सोते समय उत्तर दिशा में पैर करके सोते हैं आप, तो जान लीजिए क्या होता है फिर

Is it bad to sleep with your legs criss crossed : उत्तर दिशा में पैर करके सोने के फायदे.

खास बातें

  • रात को किस तरह सोते हैं आप.
  • चलिए आपको बताते हैं इसके फायदे और नुकसान.
  • फिर बदल लेंगे अपनी पोजिशन.

Vastu Shastra: वास्तुशास्त्र में दिशाओं को घर परिवार और लाइफस्टाइल (Lifestyle) के लिए काफी महत्वपूर्ण माना गया है. जिस प्रकार घर को बनाते वक्त दिशाओं का ध्यान रखा जाता है, ठीक उसी प्रकार हमारे खाने और सोने तक के लिए भी दिशाएं (Direction) काफी मायने रखती हैं. वास्तु (Vastu) में कहा गया है कि सोने यानी नींद के लिए भी दिशाएं काफी मायने रखती है. अगर आप गलत दिशा में सिर या पैर करके सोएंगे तो आपकी नींद में भी कमी होगी और आपकी सेहत (Health) भी अच्छी नहीं रहेगी. कहा जाता है कि उत्तर दिशा में पैर करके सोना काफी फायदेमंद होता है. चलिए आज जानते हैं कि उत्तर दिशा में पैर करके सोने से क्या फायदे मिलते हैं. 

मार्च में घूमने का प्लान कर रहे हैं तो South की इन जगहों को करें एक्सप्लोर

उत्तर दिशा में पैर करके सोने के फायदे

वास्तु विज्ञान में उत्तर दिशा को एक सकारात्मक दिशा का दर्जा दिया गया है. कहा जाता है कि उत्तर दिशा में पैर करके सोने पर सकारात्मक ऊर्जा खिंचकर चली आती है और इसी वजह से इसे सोने के लिए एक उत्तम दिशा कहा जाता है. वास्तु में कहा गया है कि आपका बिस्तर इस तरह होना चाहिए कि सोते वक्त आपके पैर उत्तर दिशा में और सिर दक्षिण दिशा में होना चाहिए. इससे जीवन सुखमय होता है और घर में सुख समृद्धि का वास बना रहता है. 

Latest and Breaking News on NDTV

मेंटल हेल्थ के लिए अच्छा 

वास्तु में कहा गया है कि उत्तर दिशा में पैर करके सोने से स्वास्थ्य भी अच्छा बना रहता है और व्यक्ति पॉजिटिव सोच का धनी बनता है. उत्तर दिशा में पैर करके सोने से दांपत्य जीवन में भी खुशहाली बनी रहती है. ये दिशा मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छी मानी जाती है और इस दिशा में अगर आप पैर करके सोएंगे तो आपकी मेंटल हेल्थ भी अच्छी बनी रहेगी. उत्तर दिशा में पैर करके सोने से ना केवल नींद अच्छी आती है बल्कि सुबह उठने पर थकावट महसूस नहीं होती और पूरा दिन ऊर्जा के साथ बीतता है. हालांकि वास्तु सोने के लिए दक्षिण दिशा को भी बेहतर मानते हैं क्योंकि चुंबकीय पावर का प्रवाह दक्षिण दिशा से उत्तर दिशा की तरफ होता है.

Nutritionist के बताए 10 आसान Tips से कभी नहीं बढ़ेगा घटाया हुआ वजन

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com