VIDEO: '...अगर सरपंच ने 15 लाख से ऊपर का किया है घोटाला, तभी मेरे पास आना': BJP विधायक

मध्‍य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते पंचायत चुनाव रद्द करने का प्रस्‍ताव पारित किया गया है. राज्‍य कैबिनेट ने इस प्रस्‍ताव को मंजूरी के लिए राज्‍यपाल के पास भेजा था, जिसे मंजूर कर लिया गया है. राज्य में 6 जनवरी से पंचायत चुनाव होने थे.

VIDEO: '...अगर सरपंच ने 15 लाख से ऊपर का किया है घोटाला, तभी मेरे पास आना': BJP विधायक

रीवा से BJP MLA जनार्दन मिश्रा सोमवार को मीडिया की भूमिका पर एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

नई दिल्ली:

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की सत्ताधारी पार्टी बीजेपी (BJP) के एक विधायक ने कहा है कि अगर किसी सरपंच ने 15 लाख से ज्यादा का गबन या घोटाला या कोई भ्रष्टाचार किया है, तभी लोग उसकी शिकायत लेकर आएं. इससे कम राशि के भ्रष्टाचार की शिकायत लेकर न आएं. सार्वजनिक तौर पर यह बयान दिया है रीवा से बीजेपी विधायक जनार्दन मिश्रा ने, जो सोमवार (27 दिसंबर) को एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे.

वर्तमान चुनौतियों से निपटने में मीडिया की भूमिका पर आयोजित कार्यक्रम में बीजेपी विधायक ने ये बातें कहीं. समाचार एजेंसी ANI ने उस कार्यक्रम का एक वीडियो क्लिप जारी किया है, जिसमें बीजेपी विधायक को यह कहते हुए सुना जा सकता है. वीडियो में मिश्रा कह रहे हैं, "लोग आकर कहते हैं कि सरपंच लोग भ्रष्टाचार कर रहे हैं तो मैं कहता हूं कि अगर 15 लाख तक का भ्रष्टाचार किया तो भाई मुझसे बात मत करो..."

'मैंने पिछड़ों के हित में बोलना छोड़ा तो...' : पंचायत चुनाव में OBC कोटा, उमा भारती का विरोधियों पर वार

इससे आगे बीजेपी विधायक कहते हैं, "अगर 15 लाख से ऊपर उसने किया है तो बताओ. क्यों.... 7 लाख तो उसने इस चुनाव में लगाया और 7 लाख रुपए अगले चुनाव के लिए चाहिए. महंगाई बढ़ेगी तो एक लाख और जोड़ दो. 15 लाख तो हो गए.  15 लाख से आगे वो गड़बड़ कर रहा है तो उसका भ्रष्टाचार समझ में आता है. ये परिस्थिति है. ये समाज की नंगी तस्वीर है. उसी क्रम में आप सीढ़ी चढ़ते जाइए."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें कि मध्‍य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते पंचायत चुनाव रद्द करने का प्रस्‍ताव पारित किया गया है. राज्‍य कैबिनेट ने इस प्रस्‍ताव को मंजूरी के लिए राज्‍यपाल के पास भेजा था, जिसे मंजूर कर लिया गया है. राज्य में 6 जनवरी से पंचायत चुनाव होने थे.