22 जुलाई का इतिहास : चंद्रयान-2 आज ही के दिन हुआ था लॉन्च, वैज्ञानिकों के लिए है खास दिन

2019 को आज ही के दिन चंद्रमा के अनछुए पहलुओं का पता लगाने के लिए चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से शान के साथ रवाना किया गया था.

22 जुलाई का इतिहास : चंद्रयान-2 आज ही के दिन हुआ था लॉन्च, वैज्ञानिकों के लिए है खास दिन

चंद्रयान-2

नई दिल्ली:

अंतरिक्ष की गहराइयों और चांद-तारों की चाल पर नजर रखने वालों के लिए पिछले वर्ष 22 जुलाई दिन इतिहास में एक बड़ी घटना के साथ दर्ज है. दरअसल 2019 को आज ही के दिन चंद्रमा के अनछुए पहलुओं का पता लगाने के लिए चंद्रयान-2 को श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसडीएससी) से शान के साथ रवाना किया गया. इसे ‘बाहुबली' नाम के सबसे ताकतवर और विशाल राकेट जीएसएलवी-मार्क ।।। के जरिए प्रक्षेपित किया गया. इसे देश के अंतरिक्ष इतिहास की एक बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा गया.

देश दुनिया के इतिहास में 22 जुलाई की तारीख पर दर्ज अन्य महत्त्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्योरा इस प्रकार है :

 1731: स्पेन ने वियना संधि पर हस्ताक्षर किए.

1918: भारत के पहले कुशल पायलट इन्द्रलाल राय प्रथम विश्वयुद्ध के समय लंदन में जर्मनी से हुई लड़ाई में मारे गए.

1969: सोवियत संघ ने स्पूतनिक 50 और मोलनिया 112 संचार उपग्रहों का प्रक्षेपण किया. 

1981: भारत के पहले भूस्थिर उपग्रह एप्पल ने कार्य करना शुरू किया.

1988: अमेरिका के 500 वैज्ञानिकों ने पेंटागन में जैविक हथियार बनाने के शोध का बहिष्कार करने की प्रतिज्ञा ली. 

1999: अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा समान कार्य के लिए समान पारिश्रमिक की कार्य योजना लागू. 

2001: शेर बहादुर देउबा नेपाल के नये प्रधानमंत्री बने.

2001: समूह-आठ के देशों का जिनेवा में सम्मेलन सम्पन्न. 

2003: इराक में हवाई हमले में तानाशाह सद्दाम हुसैन के दो बेटे मारे गए.


2012: प्रणव मुखर्जी भारत के 13वें राष्ट्रपति निर्वाचित.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


2019: श्रीहरिकोटा से चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)