NDTV Khabar

रवीश कुमार का प्राइम टाइम : केंद्र क्यों नहीं रोक पाया मिजोरम-असम का टकराव

 Share

अप्रत्याशित, अकल्पनीय, अभूतपूर्व. इन विशेषणों का प्रयोग प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना की दूसरी लहर के बाद किया था. सोमवार को मिज़ोरम और असम के बीच जो हुआ है उसे भी अभूतपूर्व, अप्रत्याशित और अकल्पनीय कहा जाएगा. अकल्पनीय इस संदर्भ में कि ट्वीटर पर मिज़ोरम और असम के मुख्यमंत्री कई घंटों तक झगड़ते रहे और ज़मीन पर दोनों राज्यों की सीमा पर तनाव बढ़ता रहा. इस पूरी घटना पर न तो तब और न घटना के कई घंटे बाद प्रधानमंत्री और गृहमंत्री ने कोई ट्वीट किया है न ही असम के मारे गए पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी है. कई घंटे बीत जाने के बाद भी श्रद्धांजलि तो दूर दोनों राज्यों के बीच शांति की अपील तक नहीं आई थी. ऐसा कभी नहीं कि एक राज्य के मुख्यमंत्री दूसरे राज्य के मुख्यमंत्री को ट्वीटर पर आकर ट्रोल करने लगें, झगड़ने लगें और कुछ देर के बाद एक मुख्यमंत्री गायब हो जाएं और एक मुख्यमंत्री देर रात तक अकेले ट्वीट करते रहें और गायब हो चुके मुख्यमंत्री को संबोधित करते रहें.



संबंधित

Advertisement

 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com