अंतरिक्ष में भारत रचेगा इतिहास, चांद पर उतरेगा चंद्रयान

  • 6:10
  • प्रकाशित: सितम्बर 06, 2019
सिनेमा व्‍यू
Embed
7 सितंबर को देर रात 1 बजकर 55 मिनट पर जब चंद्रयान का लेंडर विक्रम चांद की धरती पर कदम रखेगा उसी के साथ भारत एक नया इतिहास रच देगा. भारत का यह दूसरा चंद्र मिशन है जो चांद के उस दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर प्रकाश डालेगा जहां अभी तक किसी भी देश की नजर नहीं गई है. पीएम मोदी, करीब 70 छात्र-छात्राओं के साथ इसरो के बेंगलुरु स्थित केंद्र में इसे लाइव देखेंगे. इसी के साथ अमेरिकी एजेंसी नासा समेत पूरी दुनिया की निगाह इस अभियान पर टिकी हुई हैं. लैंडर विक्रम में तीन से चार कैमरे और सेंसर सहित तमाम ऐसी तकनीक का इस्तेमाल किया गया है जिससे उसे किसी भी तरह का नुकसान नहीं होगा.

संबंधित वीडियो

ISRO ने कहा- चंद्रयान मिशन के 90-95 फीसदी उद्देश्य पूरे हुये
सितंबर 08, 2019 09:04 AM IST 9:21
लैंडर विक्रम और रोवर प्रज्ञान मिशन 5 फीसदी था जो हमने खोया: ISRO
सितंबर 07, 2019 10:51 PM IST 4:45
सिटी एक्सप्रेस: 14 दिन तक होगी लैंडर से लिंक स्थापित करने की कोशिश - के सिवन
सितंबर 07, 2019 10:30 PM IST 15:26
इसरो ने कहा बढ़ाया जाएगा ऑर्बिटर का समय, 7 साल तक जुटाया जाएगा डाटा
सितंबर 07, 2019 09:15 PM IST 1:04
विक्रम लैंडर से संपर्क टूटा, अभी सिग्नल नहीं मिल रहे हैं: इसरो चीफ
सितंबर 07, 2019 02:21 AM IST 0:47
दिल्ली: चंद्रयान 2 की लैंडिंग देखने नेहरु तारा मंडल में जुटे बच्चे
सितंबर 07, 2019 01:27 AM IST 3:17
मुंबई: चंद्रयान 2 की लैंडिंग देखने नेहरु साइंस सेंटर में जुटे स्कूली बच्चे
सितंबर 07, 2019 01:27 AM IST 2:45
किसान के बेटे और सरकारी स्कूल से पढ़े वैज्ञानिक ने दिया मिशन चंद्रयान-2 को अंजाम
सितंबर 06, 2019 11:27 PM IST 3:56
खबरों की खबर: देर रात चांद पर कदम रखेगा भारत
सितंबर 06, 2019 08:30 PM IST 16:58
कुछ इस तरह चांद पर उतरेगा भारत
सितंबर 06, 2019 07:54 PM IST 8:10
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination