कैमरे में कैद : UP के मैनपुरी में शख्स की लात-घूंसों से पिटाई, अस्पताल में मौत

इलाके में एक अफवाह उड़ी कि दिवाकर ने अपने बेटी को बेच दिया है. पुलिस ने कहा कि उसकी जांच से यह स्थापित नहीं हुआ है कि इन्हीं अफवाहों की वजह से हमला हुआ है. 

कैमरे में कैद : UP के मैनपुरी में शख्स की लात-घूंसों से पिटाई, अस्पताल में मौत

रविवार शाम को पांच लोगों ने पीटा

खास बातें

  • यूपी में बेटी बेचने की अफवाह में पिता की बुरी तरह पिटाई
  • अस्पताल में तोड़ा दम
  • विपक्षी पार्टियों ने सरकार पर साधा निशाना
मैनपुरी:

उत्तर प्रदेश के मैनपुरी (Mainpuri) जिले में एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है. कहा जा रहा है कि अफवाह को लेकर पांच लोगों ने रविवार रात एक शख्स की बुरी तरह से पिटाई की. अस्पताल में भर्ती पीड़ित शख्स की मौत हो गई है. उत्तर प्रदेश में ही भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या किए जाने की एक अन्य घटना के एक दिन यह वारदात सामने आई है. विपक्षी पार्टियों का दावा है कि दलित सर्वेश दिवाकर पर दक्षिण पंथी संठगन के कार्यकर्ताओं ने हमला किया है. हालांकि, पुलिस ने इन आरोपों को खारिज किया है. 

मृतक दिवाकर ठेले पर कचौड़ी बेचने का काम करते थे और मैनपुरी में अपनी बेटी के साथ किराये के घर में रहते थे. उनकी 16 वर्षीय बेटी घरेलू सहायिका के रूप में काम करती थी और इलाके के एक स्कूल में पढ़ती भी थी. कुछ दिन पहले ही दिवाकर ने अपनी बेटी को रिश्तेदारों के यहां रहने के लिए भेज दिया था क्योंकि कहा जा रहा है कि कोरोना महामारी की वजह से उसकी नौकरी चली गई थी. 

इलाके में एक अफवाह उड़ी कि दिवाकर ने अपने बेटी को बेच दिया है. पुलिस ने कहा कि उसकी जांच से यह स्थापित नहीं हुआ है कि इन्हीं अफवाहों की वजह से हमला हुआ है. 

घटना के वीडियो में देखा जा सकता है कि पांच लोग दिवाकर के घर की छत पर उन्हें लात-घूंसों से पीट रहे हैं और वह उनसे दया की गुजारिश कर रहे हैं. आरोपी तब भी उन्हें मारना बंद नहीं करते हैं जब वह जमीन पर गिर जाते हैं. 

समाजवादी पार्टी ने अपने ट्वीट में लिखा- मैनपुरी का यह वीडियो सामने आया है जहां बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा कचौड़ी का ठेला लगाने वाले दलित युवक सर्वेश दिवाकर की लिंचिंग कर हत्या कर दी गई. दोषी बजरंग दल के कार्यकर्ताओं पर कड़ी कार्रवाई करे सरकार.

वहीं, बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा, "यूपी में कल मैनपुरी में दलित सर्वेश कुमार की दबंगों द्वारा पीट-पीट कर की गई हत्या व इसी प्रकार महाराजगंज में गोबिन्द चैहान, शाहजहाँपुर में राजवीर मौर्य, बरेली में वासिद, कुशीनगर में सुधीर सिंह तथा बांदा में विनोद गर्ग की गोली मार की गई हत्या आदि की घटनायें अति-दुःखद."

उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा, "साथ ही, यूपी के नोएडा में कल ही कैब ड्राइवर की हत्या आदि की घटनायें कानून-व्यवस्था के मामलें में सरकारी दावों की पोल खोलती हैं. सरकार कानून को हाथ में लेने वालों के विरूद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई करे व पीड़ितों को न्याय दे व उनकी आर्थिक मदद भी जरूर करे, बीएसपी की यह मांग.


पुलिस ने सोमवार को जारी अपने बयान में किसी भी संगठन का हाथ होने से इंकार किया है. मैनपुरी पुलिस ने कहा, "पुलिस मौके पर पहुंची और व्यक्ति को अस्पताल लेकर गई. जिला अस्पताल में उनकी मौत हो गई है. हमने तुरंत वीडियो का संज्ञान लिया और वीडियो में दिख रहे 5 में से चार लोगों का गिरफ्तार किया है. हमें अभी तक आरोपियों के किसी भी संगठन से जुड़े होने की जानकारी नहीं हुई है." 

वीडियो: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हत्या के आरोपी को भीड़ ने मार डाला

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com