'Arvind Sawant Resigns' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | Reported by: भाषा, Edited by: मानस मिश्रा |सोमवार नवम्बर 11, 2019 03:00 PM IST
    महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी राजनीतिक घटनाक्रम के बीच, केंद्र में भारी उद्योग मंत्री एवं शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने सोमवार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार से इस्तीफा दे दिया और भाजपा पर सत्ता में हिस्सेदारी के तय फार्मूले से मुकरने का आरोप लगाया.  सावंत ने दिल्ली में संवाददाताओं से कहा, 'हमने विधानसभा चुनाव गठबंधन में लड़ा था. इसमें कुछ चीजों पर सहमति बनी थी' उन्होंने कहा कि इसमें मुख्यमंत्री पद सहित सीटों के 50-50 के अनुपात में बंटवारे का फार्मूला तय हुआ था लेकिन बीजेपी अब इससे इनकार कर रही है.
  • India | Edited by: मानस मिश्रा |सोमवार नवम्बर 11, 2019 03:28 PM IST
    शरद पवार और उद्धव ठाकरे की किसी अज्ञात जगह पर मुलाकात हुई है.  कांगेस  सैद्धांतिक तौर पर समर्थन को तैयार है. सिर्फ सरकार में रहकर या बाहर से ये फैसला होना बाकी है. NCP चाहती है कि कांग्रेस सरकार में शामिल हो. वहीं केंद्रीय कैबिनेट में शामिल के एक मात्र मंत्री अरविंद सावंत ने मंत्रिमंडल से अपना त्यागपत्र दे दिया है.
  • India | Edited by: मानस मिश्रा |सोमवार नवम्बर 11, 2019 01:35 PM IST
    बीजेपी-शिवसेना का क़रीब 30 साल पुराना रिश्ता टूट गया है और वह एनडीए से बाहर आ गई है. शिवसेना के इकलौते केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत ने मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफ़े का ऐलान कर दिया. शिवसेना नेता संजय राउत ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर कहा कि बीजेपी अपने वादे से मुकर गई और विपक्ष में बैठने का फ़ैसला जनता के अपमान जैसा है. इधर राज्य में बदले समीकरण के एनसीपी कोर कमेटी की बैठक भी है. वहीं दिल्ली में सोनिया गांधी के घर कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक शुरू हो गई है. इधर सरकार गठन की कवायद को लेकर उद्धव ठाकरे आज शरद पवार से मिल सकते हैं. वहीं शिवसेना नेता संजय राउत दिल्ली आकर कांग्रेस आलाकमान सोनिया गांधी से मिल सकते हैं.
  • India | Reported by: भाषा, Edited by: मानस मिश्रा |सोमवार नवम्बर 11, 2019 10:48 AM IST
    शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि बीजेपी के मुख्यमंत्री पद साझा ना करने के अहंकार के कारण मौजूदा स्थिति उत्पन्न हुई. उन्होंने कहा कि यह बीजेपी का अहंकार ही है कि वह समझौते की बात न मानकर विपक्ष में बैठने को तैयार है लेकिन सरकार बनाने के लिए राजी नहीं है.
  • India | Edited by: मानस मिश्रा |बुधवार नवम्बर 20, 2019 03:34 PM IST
    महाराष्ट्र में सियासी समीकरण ने करवट ले ली है. लंबी खींचतान के बाद आख़िरकार बीजेपी ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया. अब राज्यपाल ने शिवसेना को चिट्ठी लिखकर सरकार बनाने की इच्छाशक्ति और समर्थता पर जवाब मांगा है. शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी के समर्थन से सरकार बनाने को तैयार दिख रही है. लेकिन समर्थन से पहले एनसीपी ने शिवसेना के सामने एनडीए से बाहर आने की शर्त रख दी है, जिसके बाद शिवसेना बीजेपी से 30 साल पुरानी दोस्ती तोड़ दी है. हालांकि शिवसेना की ओर से मोदी सरकार में शामिल एकमात्र मंत्री अरविंद सावंत दोपहर 11 बजे अपने इस्तीफे का ऐलान करने वाले थे लेकिन अब सूत्रों के हवाले खबर मिल रही है कि वह उद्धव ठाकरे की हां का इंतजार कर रहे हैं और उधर उद्धव भी कांग्रेस और एनसीपी से लिखित समर्थन का इंतजार कर रहे हैं.  उद्धव ठाकरे आज शरद पवार से मिल सकते हैं. वहीं शिवसेना नेता संजय राउत आज दिल्ली में सोनिया गांधी से मिल कर सियासी समीकरण साधने की कोशिश कर सकते हैं. महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में बीजेपी को 105 सीटों पर जीत मिली थी वहीं शिवसेना 56 सीटें जीतकर दूसरे नंबर की पार्टी बनी थी. महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को स्पष्ट बहुमत मिला था लेकिन 50-50 फॉर्मूले की वजह से दोनों दलों में मतभेद हो गया. 
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com