NDTV Khabar
होम | चुनाव |   केरल चुनाव कार्यक्रम 

केरल विधानसभा चुनाव 2021 कार्यक्रम

 Share
&ndsp;

Election 2021 के तहत केरल में सिर्फ एक ही चरण में 6 अप्रैल को मतदान करवाया जाएगा. मुख्य चुनाव आयुक्त ने केरल इलेक्शन 2021 (Kerala Elections 2021) के कार्यक्रम की घोषणा 26 फरवरी को की थी, और साथ ही चार अन्य राज्यों के विधानसभा चुनाव कार्यक्रम की भी. केरल चुनाव 2021 राज्य विधानसभा की 140 सीटों पर लड़ा जाएगा, और बहुमत पाने के लिए किसी भी पार्टी या गठबंधन को कम से कम 71 सीटों पर जीत हासिल करनी होगी. राज्य विधानसभा का कार्यकाल 1 जून, 2021 को समाप्त हो रहा है. केरल में 16 विधानसभा सीटें अनुसूचित जातियों तथा अनुसूचित जनजातियों के प्रत्याशियों के लिए आरक्षित हैं. इलेक्शन 2021 में मुख्य मुकाबला CPM-नीत LDF तथा कांग्रेस-नीत UDF के बीच होगा. 2016 में CPM-नीत LDF को सत्ता हासिल हुई थी. अतीत में राज्य की जनता एक-एक बार दोनों गठबंधनों को मौका देती रही है, लेकिन इस बार मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन को लगातार दूसरा कार्यकाल हासिल हो जाने की उम्मीद है, क्योंकि वामपंथी दलों ने हाल ही में स्थानीय निकाय चुनावों में जीत हासिल की थी. उधर, वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में 20 में से 19 संसदीय क्षेत्रों में जीत पाने वाली कांग्रेस को भी सत्ताविरोधी लहर के बूते जीत की उम्मीद है. विधानसभा चुनाव 2021 एक साथ पांच राज्यों (जिनमें एक केंद्रशासित प्रदेश शामिल है) - केरल, असम, तमिलनाडु, पुदुच्चेरी और पश्चिम बंगाल - में होगा. सभी पांचों राज्यों में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा केंद्रीय निर्वाचन आयोग द्वारा 26 फरवरी को की गई थी. यूज़र विधानसभा चुनाव 2021 के कार्यक्रम तथा मतदान तिथियों की विस्तार से जानकारी ndtv.in पर हासिल कर सकते हैं.

Advertisement

 
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com