तकनीकी खराबी के कारण ब्लू लाइन मेट्रो में रुकावट से यात्री हुए बेहाल

तकनीकी खराबी के कारण ब्लू लाइन मेट्रो में रुकावट से यात्री हुए बेहाल

दिल्ली मेट्रो का फाइल फोटो

नई दिल्ली:

मेट्रो में यात्रा करने वाले लोगों के लिए मंगलवार का दिन मुश्किलभरा साबित हुआ. मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन पर आई तकनीकी खराबी के कारण ब्लूलाइन मेट्रो सेवा बुरी तरह प्रभावित रही. लोगों का मिनटों का सफर घंटों में जाकर पूरा हुआ. हर स्टेशन पर गाड़ी 5 मिनट से भी अधिक समय के लिए रुक कर चल रही थी.

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने एक बयान में कहा कि दोनों स्टेशनों के बीच सुबह 11.20 से गति सीमा 20 किलोमीटर प्रति घंटा लागू की गई. नतीजतन, इस लाइन पर खासकर नोएडा और वैशाली लाइन पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा. इसकी वजह से ट्रेनों में बहुत भीड़ हो गई और स्टेशनों पर भी लोगों की काफी भीड़ जमा हो गई.


एक यात्री ने बताया कि उन्हें दोपहर की शिफ्ट में ऑफिस पहुंचना था, लेकिन हर स्टेशन पर मेट्रो काफी देर रुककर चल रही थी. मेट्रो में भीड़ भी बहुत ज्यादा हो गई थी. यात्री ने बताया कि भीड़ बढ़ने से बच्चे, महिलाओं और बुजुर्गों को काफी तकलीफें हुईं. उसने कई यात्रियों को चक्कर आते और उल्टी करते देखा था. यात्री ने आक्रोश जताया कि जब कुछ खराबी है तो टिकट की बिक्री नहीं करनी चाहिए. यात्रियों को यात्रा करने से रोकने का इंतजाम होना चाहिए.


डीएमआरसी ने कहा कि मेट्रो संचालन में देरी मंडी हाउस के पास ऊपर से गुजरने वाले तारों को लेकर हुई, जिसे बाद में ठीक कर दिया गया. डीएमआरसी ने कहा कि अन्य सभी लाइनों की ट्रेनों के संचालन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा.

इसी तरह की खराबी 25 दिसंबर को भी आई थी. उस दिन ब्लू लाइन के इंद्रप्रस्थ और यमुना बैंक स्टेशनों के बीच कुछ मरम्मत के काम की वजह से तीन घंटे से अधिक समय तक सेवा बाधित रही थी.

 


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com