पिंक लाइन मेट्रो का और विस्तार, लाजपत नगर- मयूर विहार पॉकेट-1 कोरीडोर की शुरुआत आज से

अधिकारी ने कहा, 'दिल्ली मेट्रो के पिंक लाइन के विस्तार को हरी झंडी केंद्रीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया 31 दिसम्बर की सुबह 11 बजे दिखाएंगे.'

पिंक लाइन मेट्रो का और विस्तार, लाजपत नगर- मयूर विहार पॉकेट-1 कोरीडोर की शुरुआत आज से

9.7 किलोमीटर लंबे लाजपत नगर- मयूर विहार पॉकेट-1 कोरीडोर की शुरुआत

नई दिल्ली:

दिल्ली मेट्रो नये वर्ष में पिंक लाइन  पर 9.7 किलोमीटर लंबे लाजपत नगर- मयूर विहार पॉकेट-1 कोरीडोर की शुरुआत कर अपने यात्रियों को एक और सौगात देने की तैयारी में है. इस लाइन को आम जनता के लिए 31 दिसम्बर को खोला जाएगा.
डीएमआरसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस खंड पर पांच स्टेशन हैं जिनमें तीन भूमिगत और दो जमीन से ऊपर हैं. मेट्रो रेलवे सुरक्षा आयुक्त ने सोमवार को इसका निरीक्षण किया जिन्होंने इसे यात्रियों के लिए संचालित करने की खातिर अनिवार्य मंजूरी प्रदान की.

दिल्ली वासियों के लिए खुशखबरी, मेट्रो के चौथे फेज को मिली मंजूरी, देखें प्रस्तावित रूट

अधिकारी ने कहा, 'दिल्ली मेट्रो के पिंक लाइन के विस्तार को हरी झंडी केंद्रीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया 31 दिसम्बर की सुबह 11 बजे दिखाएंगे.' उन्होंने कहा, 'उसी दिन शाम चार बजे से इस सेक्शन पर यात्री सेवा की शुरुआत होगी.' नया सेक्शन 59 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन का हिस्सा है जो मजलिस पार्क से शिव विहार तक फैला हुआ है. यह डीएमआरसी के नेटवर्क का तीसरा चरण है.

तकनीकी कारणों से ब्लू लाइन पर मेट्रो सेवाएं रहीं बाधित, यात्रियों को घंटों करना पड़ा इंतजार

जिन पांच स्टेशनों को जनता के लिए खोला जा रहा है उनमें लाजपत नगर, विनोदपुरी, आश्रम, हजरत निजामुद्दीन, मयूर विहार फेज एक और मयूर विहार पॉकेट एक शामिल हैं. अधिकारी ने बताया कि मयूर विहार फेज एक और मयूर विहार पॉकेट-1 जमीन से ऊपर (एलिवेटेड) स्टेशन हैं. डीएमआरसी ने वर्ष 2002 में पहली बार मेट्रो संचालित की थी और वर्तमान में इसका नेटवर्क 317 किलोमीटर में फैला हुआ है जिस पर 231 स्टेशन हैं. 

कंट्रोल रूम दौड़ाएगा मेट्रो: ड्राइवरलेस मेट्रो के कंट्रोल रूम से ग्राउंड रिपोर्ट​



 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इनपुट : भाषा