Delhi Violence: दिल्ली में बीते हफ्ते हुई हिंसा में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 53 पर पहुंचा

लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भी 3 पीड़ितों और जग प्रवेश चंद्र अस्पताल में एक हिंसा पीड़ित की मौत हो चुकी है.

Delhi Violence: दिल्ली में बीते हफ्ते हुई हिंसा में मौतों का आंकड़ा बढ़कर 53 पर पहुंचा

दिल्ली हिंसा से अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है.

खास बातें

  • दिल्ली हिंसा में अब तक 53 लोगों की मौैत
  • 200 से ज्यादा लोग हुुए थे घायल
  • मामले में एसआईटी जांच कर रही है
नई दिल्ली:

दिल्ली हिंसा में मरने वालों का आंकड़ा 53 पहुंच गया है. जीटीबी अस्पताल लाए गए 44 पीड़ितों और राम मनोहर लोहिया अस्पताल लाए गए 5 पीड़ितों की मौत हो चुकी है. लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में भी 3 पीड़ितों और जग प्रवेश चंद्र अस्पताल में एक हिंसा पीड़ित की मौत हो चुकी है. राजधानी दिल्ली में चार दिनों तक जारी रही हिंसा में 200 से अधिक लोग घायल हो गए, इनमें 11 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. हिंसा की जांच के लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की दो एसआईटी टीम गठित की गई हैं. उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 654 मामले दर्ज किए गए हैं. कुल 1,820 लोगों की गिरफ्तारी हुई है या हिरासत में लिया गया है. 47 आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज किए गए हैं. 


SIT ने शुरू की जांच
उत्तर-पूर्वी दिल्ली क्यों और कैसे जला? यह हादसा था या फिर सोची समझी रणनीति के तहत फैलाया गया दंगा? इन सवालों के जवाब तलाश कर जवाबदेही तय करने के लिए गठित दिल्ली पुलिस अपराध शाखा की एसआईटी ने जांच शुरू कर दी है.

दिल्ली में हिंसा के दौरान पुलिस ने अपनी जान पर खेलकर लोगों को बचाया : ज्वाइंट सीपी आलोक कुमार

एसआईटी गठित होने के तत्काल बाद दिल्ली पुलिस अपराध शाखा के एडिशनल पुलिस कमिश्नर ने सबसे पहले एक अपील जारी की. आम-नागिरक और मीडिया के नाम जारी अपील में कहा गया है कि इस हिंसा की जांच में जिसके पास जो भी तस्वीरें, वीडियो फुटेज या फिर अन्य संबंधित सबूत हों, तो वो सात दिन के भीतर पुलिस को मुहैया कराके जांच में मदद करें. 

Video: शाहरुख गिरफ्तार, लेकिन दूसरे शूटरों पर पुलिस खामोश!


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com