फिर लाल-पीले हुए ब्लू लाइन के यात्री, तकनीकी खराबी के कारण गुरुवार को भी बाधित रही मेट्रो

फिर लाल-पीले हुए ब्लू लाइन के यात्री, तकनीकी खराबी के कारण गुरुवार को भी बाधित रही मेट्रो

लाइफ लाइन कही जाने वाली दिल्ली की मेट्रो बनी लोगों की परेशानी की वजह

खास बातें

  • गुरुवार को ट्रेक सर्किट में खराबी के कारण ब्लू लाइन फिर हुई बाधित
  • तकनीकी खराबी के कारण बुधवार को 7 घंटे बाधित रही ब्लू लाइन मेट्रो
  • पूरे दिल्ली मेट्रो नेटवर्क में ब्लू लाइन है सबसे ज्यादा व्यस्त लाइन
नई दिल्ली:

दिल्ली की लाइफ लाइन कही जाने वाली मेट्रो इन दिनों लोगों की परेशानी का सबब बनी हुई है. आए दिन तकनीकी खराबी आने के कारण लोगों को, खासकर समय पर ऑफिस जाने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

बुधवार के बाद गुरुवार को भी ब्लू लाइन पर गाड़ियां 10 से 15 मिनट के अंतराल पर चल रही थीं. इतना ही नहीं कैशलेस होने का दंभ भरने वाले ज्यादातर मेट्रो स्टेशनों पर पीओएस मशीन काम नहीं करने से नया स्मार्ट कार्ड बनवाने या फिर कार्ड रिचार्ज करवाने वाले मेट्रो सिस्टम को कोसते नज़र आए.

कृष्णा नगर निवासी वेदप्रकाश बुधवार को सुबह 9.30 बजे संसद मार्ग स्थित अपने ऑफिस जाने के लिए प्रीत विहार मेट्रो स्टेशन पहुंचे. प्लेटफार्म पर पहुंचने पर उन्हें पता चला कि तकनीकी खराबी के कारण गाड़ियां काफी देरी से चल रही हैं. करीब 10 मिनट इंतजार करने के बाद जो गाड़ी आई वह पहले से ही ओवरलोड थी.

नतीजतन, बहुत कम यात्री ही धक्कामुक्की करके मेट्रो में सवार हो सके. इसके बाद अगली मेट्रो 8 मिनट बाद आने की घोषणा हुई. प्लेटफार्म पर यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही थी. वेदप्रकाश ने मेट्रो से जाने का इरादा छोड़कर स्टेशन से बाहर आकर बस द्वारा अपने ऑफिस गए.

गुरुवार को भी प्रीत विहार स्टेशन पर वेदप्रकाश के साथ यही वाकया दोहराया गया. आज मेट्रो 11 से 15 मिनट की देरी से चल रही थीं. वेद फिर से उसी स्टेशन से निकलकर बस द्वारा अपने ऑफिस गए.

इतना ही नहीं दूसरा कटू अनुभव बताते हुए उन्होंने बताया कि उनका स्मार्ट कार्ड खराब हो गया था, जिसे बदलने के लिए वह पिछले 10 दिनों से कई स्टेशनों पर प्रयास कर चुके हैं, लेकिन सब जगह से यही जवाब मिलता कि कार्ड के रिफंड पर रोक लगी हुई है. इसके बाद उन्होंने नया कार्ड बनवाने के लिए ग्राहक सेवा केंद्र पर अपना एटीएम कार्ड दिया तो जवाब मिला कि मशीन काम नहीं कर रही है. वेद के अलावा कार्ड से अपना स्मार्ट कार्ड रिचार्ज करवाने वाले डिजिटल व्यवस्था को कोसते देखे गए.

मेट्रो प्रशासन ने बताया कि गुरुवार को ट्रेक सर्किट में खराबी आने के कारण मेट्रो की रफ्तार धीमी हो गई. इससे ब्लू लाइन पर मेट्रो परिचालन बुरी तरह से चरमरा गया. लगभग हर स्टेशन पर यात्रियों की भीड़ जमा हो गई.

बता दें कि बुधवार को यह लाइन करीब 7 घंटे तक बाधित रही. पूरे मेट्रो नेटवर्क में ब्लू लाइन सबसे ज्यादा व्यस्त लाइन है और पिछले दो महिने इस लाइन में 10 से अधिक बार तकनीकी खराबी आ चुकी हैं.


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com