पुलिस को आर्मी मेजर बनकर झाड़ रहा था रौब, जांच हुई तो सामने आई सच्चाई

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसने पहले एनसीसी ज्वाइन की थी और वो देहरादून की आईएमए अकेडमी भी गया था.

पुलिस को आर्मी मेजर बनकर झाड़ रहा था रौब, जांच हुई तो सामने आई सच्चाई

23 जुलाई को सूरज तिवारी नाम के इस नकली मेजर को एक महिला के साथ झगड़े की शिकायत पर गिरफ्तार किया गया था

नई दिल्ली:

दिल्ली के रोहिणी के प्रेम नगर में झगड़े के एक मामले में गिरफ्तार एक शख्स से जब ज़मानत लेने के लिए पहचान पत्र दिखाने के लिए कहा गया तो उसने पुलिस पर रौब झाड़ते हुए कहा कि वो आर्मी में मेजर है उसे पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकती. यही नहीं ,उसने सेना का एक पहचान पत्र भी दिखा दिया. शक होने पर पुलिस ने जांच की तो पता चला कि पहचान पत्र फ़र्ज़ी है. उसके बाद आरोपी को जालसाज़ी का दूसरा केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया.

डीसीपी रोहिणी प्रमोद मिश्रा के मुताबिक प्रेम नगर इलाके में 23 जुलाई को सूरज तिवारी नाम के शख्स को एक महिला के साथ झगड़े की शिकायत पर गिरफ्तार किया गया था. चूंकि अपराध ज़मानती था, इसलिए सूरज से जमानत लेने के लिए पहचान पत्र आदि देने के लिए कहा गया. 

यह भी पढ़ें- दिल्ली के लोधी एस्टेट में CRPF के सब इंस्पेक्टर ने पहले इंस्पेक्टर को मारी गोली, फिर खुद को गोली से उड़ाया

इस पर सूरज ने आर्मी का एक पहचान पत्र दिखाते हुए कहा कि वो आर्मी में मेजर है उसे कोई गिरफ्तार नहीं कर सकता,वो लगातार पुलिसवालों पर रौब झाड़ रहा था.शक होने पर पुलिस ने जब उसके पहचान पत्र की जांच कराई, तो पता चला कि मेजर वाला ये पहचान पत्र फ़र्ज़ी है. इसके बाद पुलिस ने उसे जालसाज़ी का दूसरा केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया, जोकि गैरजमानती है.

यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री बेरोजगार भत्ता योजना के नाम पर ठगी करने वाले फर्जी वेबसाइट को दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने बंद करवाया


आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसने पहले एनसीसी ज्वाइन की थी और वो देहरादून की आईएमए अकेडमी भी गया था. वहां उसे लगा कि वो भी एक दिन आर्मी अफसर बनेगा, लेकिन ऐसा नहीं हो सका और फिर उसने शौक पूरा करने के लिए आर्मी में मेजर रैंक का फ़र्ज़ी पहचान पत्र बनवा लिया. 

सिटी सेंटर : सीसीटीवी में कैद हुई 4 साल की बच्ची की सनसनीखेज किडनैपिंग

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com