दिल्ली: आदर्शनगर में सिमरन कौर की हत्या मामला सुलझा, दो झपटमार गिरफ्तार

सिमरन कौर अपने दो साल के मासूम को गोद में लेकर पैदल जा रही थी, लुटेरों ने महिला के गले पर दो बार चाकू से वार किया, महिला की अस्पताल में मौत

दिल्ली: आदर्शनगर में सिमरन कौर की हत्या मामला सुलझा, दो झपटमार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की गिरफ्त में लूट और हत्या के आरोपी.

नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi) के आदर्श नगर (Adarsh Nagar) में सिमरन कौर की हत्या का मामला सुलझा लिया गया है. पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उनसे पूछताछ जारी है. हत्या करने वाले दोनों बदमाश  मोहम्मद अकीबुल उर्फ अटैची और शेख फरदीन उर्फ डबल अंटा हैं. दोनों कुख्यात बदमाश हैं. इन दोनों पर झपटमारी के पहले से कई मामले दर्ज हैं. गौरतलब है कि आदर्श नगर थाना इलाके में चेन स्नैचिंग (झपटमारी) की हिला देने वाली वारदात सामने आई है. महिला सिमरन कौर अपने दो साल के मासूम को गोद में लेकर पैदल जा रही थी, तभी लुटेरों ने महिला के गले पर दो बार चाकू से वार कर दिया. इससे महिला की अस्पताल में मौत हो गई. शनिवार शाम की ये पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. इस मामले में दोनों आरोपी आज गिरफ्तार हो गए.

वारदात के बाद घायल महिला सिमरन कौर को शालीमार बाग के फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया था, जहां पर कुछ ही देर के बाद उसकी मौत हो गई थी. सिमरन कौर 25 साल की थीं और 3 साल पहले ही उनकी शादी हुई थी. महिला का दो साल का बच्चा है. वह आदर्श नगर इलाके में अपने मायके आई हुई थीं. सिमरन का ससुराल पटियाला में है.


आदर्श नगर इलाके में सिमरन के मायके के पास ही शनि बाजार नाम से मार्केट लगता है, जहां से महिला शॉपिंग करके लौट रही थी. पहले एक लुटेरे ने महिला के गले से चैन खींचना चाही लेकिन जब महिला ने इसका विरोध कर उसे पकड़ना चाहा तो चोर ने महिला की गर्दन पर ताबड़तोड़ दो बार चाकू से वार कर दिए. जब लुटेरे महिला पर वार कर रहे थे, तब महिला अपने मासूम को गोद में पकड़े हुए थी. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वारदात की सूचना पाकर आदर्श नगर थाने के पुलिस और अधिकारी मौके पर पहुंचे और महिला को घायल अवस्था में फोर्टिस अस्पताल शालीमार बाग ले जाया गया लेकिन महिला की जान नहीं बच सकी. देश की राजधानी दिल्ली में इस तरह की स्नैचिंग की हिला देने वाली वारदात का यह पहला मामला नहीं है. दो दिनों के अंदर ऐसी यह दूसरी घटना है.  सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने लुटेरों की पहचान की. इसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.