जब तक समाज में भेदभाव रहेगा एससी-एसटी के लिए आरक्षण जारी रहेगाः सुशील मोदी

सुशील मोदी ने कहा कि भाजपा एससी-एसटी के आरक्षण में क्रीमी लेयर लाने के उच्चतम न्यायालय के फैसले के विरोध में है

जब तक समाज में भेदभाव रहेगा एससी-एसटी के लिए आरक्षण जारी रहेगाः सुशील मोदी

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और बीजेपी के नेता सुशील मोदी (फाइल फोटो).

पटना:

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने रविवार को कहा कि जब तक समाज में भेदभाव रहेगा लोकसभा, विधानसभा व सरकारी नौकरियों में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति (एससी-एसटी) के लिए आरक्षण जारी रहेगा. मोदी ने एससी-एसटी के आरक्षण को 2030 तक बढ़ाए जाने पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को धन्यवाद देते हुए कहा कि जब तक समाज में भेदभाव, छुआछूत आदि रहेगी तब तक लोकसभा, विधानसभा व सरकारी नौकरियों में आरक्षण की व्यवस्था जारी रहनी चाहिए.


पटना के ए.एन. सिन्हा इंस्टीट्यूट में ‘आम्बेडकर के लोग' की ओर से बाबा साहेब भीम राव आम्बेडकर की 64 वीं पुण्यतिथि के मौके पर आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह आरक्षण महात्मा गांधी और आम्बेडकर की देन हैं. बिहार विधानसभा में 38 सीटें आरक्षित है, जहां एससी,एसटी के लोग जीत कर आते हैं, मगर विधान परिषद और राज्यसभा में आरक्षण की व्यवस्था नहीं रहने से वहां इनकी संख्या नगण्य हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मोदी ने कहा कि भाजपा एससी-एसटी के आरक्षण में क्रीमी लेयर लाने के उच्चतम न्यायालय के फैसले के विरोध में है. केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय में अपील कर उसे लागू करने से इनकार कर दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने आम्बेडकर की उपेक्षा की, मगर 1989 में भाजपा के सहयोग से बनी वीपी सिंह की सरकार में संसद में चित्र लगाने के साथ आम्बेडकर को भारत रत्न से सम्मानित किया गया.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)